12 दिनों में सीएम योगी के 12 बड़े फैसले

UP CM Yogi Adityanath

UP CM Yogi Adityanath

लखनऊ. सत्ता संभालने के महज 12 दिनों के भीतर ही योगी सरकार के ताबड़तोड़ फैसलों का असर पूरे उत्तर प्रदेश में दिखाई देने लगा है। उन्होंने 19 मार्च 2017 को प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। यूपी सरकार के बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई और एंटी रोमियो स्क्वायड जैसे कई फैसले देश में नहीं विदेशी अखबारों की भी सुर्खियां बने हैं। इस दौरान मंत्री से लेकर संतरी तक सभी एक्टिव दिख रहे हैं। गौर करने वाली बात यह है कि अभी तक यूपी सरकार ने एक भी कैबिनेट मीटिंग नहीं बुलाई है। आइए जानते हैं योगी सरकार के अब तक लिए गए 13 बड़े फैसले-

कानून-व्यवस्था
यूपी चुनाव में महिला अपराध को लेकर भाजपा ने अखिलेश सरकार को कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर पूरी तरह फेल बताया था। उन्होंने वादा किया था कि सूबे में भाजपा सरकार बनते ही महिला सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी। इस दिशा में योगी सरकार ने महिला सुरक्षा और छेड़छाड़ की घटनाओं को रोकने के लिए ‘एंटी रोमियो स्क्वायड’ का गठन किया है। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने साफ कहा है कि अगर सार्वजनिक स्थलों पर छेड़खानी की घटना होती है, तो उसके लिए स्थानीय प्रशासन जिम्मेदार होगा।

अवैध बूचड़खानों पर सख्ती
सीएम योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में अवैध बूचड़खानों को हटाने का निर्देश दिया है। इस दौरान उन्होंने साफ कहा है कि वैध बूचड़खानों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी।

संपत्ति की घोषणा
मुख्यमंत्री बनते ही योगी आदित्यनाथ ने अपने सभी मंत्रियों से प्रॉपर्टी का पूरा ब्यौरा मांगा था। इसके लिए उन्हें 15 दिन का वक्त दिया है, जिसमें 10 दिन गुजर चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने अफसरों से संपत्ति के सार्वजनिक करने की बात कही है।

स्वच्छता अभियान
प्रधानमंत्री के स्वच्छता अभियान को गति देते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साफ-सफाई पर विशेष जोर दिया है। इसके बाद प्रदेश में कई मंत्री और बड़े-बड़े अफसर झाड़ू लगाते नजर आ रहे हैं। सीएम आदित्यनाथ ने सभी सरकारी दफ्तरों को साफ-सफाई के निर्देशों का सख्ती से पालन करने का आदेश दिया है। इसके बाद तमाम दफ्तरों में बाहर ही नोटिस चस्पा की गई है कि परिसर में पान-मसाला न खाकर आएं।

समय पर पहुंचे डॉक्टर-कर्मचारी
सीएम योगी आदित्यनाथ ने सरकारी अस्पतालों को निर्देशित किया है कि डॉक्टर सही समय पर अस्पताल पहुंचे। इसके अलावा उन्होंने कर्मचारियों, अधिकारियों और मंत्रियों को भी समय से अपने विभाग में पहुंचने का निर्देश दिया है।

मिलेगी सस्ती दवाई
योगी सरकार ने ऐलान कर दिया है कि प्रदेश में 3000 नई मेडिकल की ऐसी दुकानें खुलवाई जाएंगी, जहां सस्ती दरों पर जेनरिक दवाइयां मिलेंगी।

मजबूत हो गुरू-शिष्य की परंपरा
योगी आदित्यनाथ गुरु-शिष्य की परंपरा को भी मजबूत बनाना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने निर्देशित किया है कि स्कूलों में अध्यापकों की उपस्थिति शत-प्रतिशत होनी चाहिए। वह स्कूल में बेवजह मोबाइल फोन के इस्तेमाल से बचें और अध्यापक स्कूल में टी-शर्ट, जींस न पहनें।

मंत्री फाइल घर नहीं ले जा सकते
नए आदेश के मुताबिक, अब सभी मंत्री हर हफ्ते अपने विभागों की फाइलों की सूची बनाएंगे। लेकिन कोई भी मंत्री सम्बंधित फाइल को घर नहीं ले जा पाएंगे। सीएम ने कहा है कि नागरिक घोषणा पत्र के जरिये लोगों की समस्याओं को जल्द से जल्द सुलझाया जाए और सरकारी फाइलों का निस्तारण भी जल्द हो।

24 घंटे बिजली
योगी सरकार अपने घोषणा पत्र के मुताबिक, गांवों में चौबीस घंटे बिजली पहुंचाने की तैयारी के निर्देश जारी कर दिए हैं। साथ ही यह भी कहा गया है कि अगर ट्रांसफार्मर फुंकता है तो अधिकारी खुद मौके पर पहुंचकर अपनी देख-रेख में बदलवाएं।

रिशेप्शन पर हो महिला पुलिस भी हो
महिलाओं की सहूलियत को देखते हुए योगी सरकार ने निर्देश जारी कर दिया है कि सभी पुलिस थानों में एक महिला और पुरुष पुलिस रिसेप्शन में मौजूद हो। साथ फरियादियों के लिए पीने के पानी की व्यवस्था की जाए।

इन शहरों में भी दौड़ेगी मेट्रो
मुख्यमंत्री योगी आदित्नाथ ने आगरा, इलाहाबाद, मेरठ, गोरखपुर, झांसी में मेट्रो के लिए जल्द डीपीआर तैयार किए जाने के आदेश भी दे दिए हैं।

किसानों को मिलेगा उचित दाम
योगी सरकार ने ऐलान किया है कि सरकार किसानों का शत-प्रतिशत अनाज खरीदेगी। वहीं सभी चीनी मिलों को निर्देशित किया गया है कि गन्ना खरीद के 14 दिनों के भीतर उसका भुगतान सुनिश्चित करें।

लगेगी बायोमेट्रिक हाजिरी
सरकारी दफ्तरों में लेट-लतीफी और कामचोरी को खत्म करने के योगी सरकार ने अहम फैसला लिया है। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा है कि सभी सरकारी दफ्तरों के कमरों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। साथ ही सभी की बायोमेट्रिक मशीनों से उपस्थिति दर्ज कराई जाएगी।

Pin It