भारतीय सेना पर आजम खान का विवादित बयान, भाजपा ने कहा- शर्मनाक

लखनऊ. अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान के भारतीय सेना पर दिए विवादित बयान से हंगामा खड़ा हो गया है। रामपुर एक कार्यक्रम के दौरान आजम ने सेना पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि सेना बलात्कार के मामलों में भी शामिल रहती है। इसके चलते दशहशत गर्द उनके प्राइवेट पार्ट काट कर ले गए।

भारतीय सेना के खिलाफ आजम खान का वीडियो वायरल होते ही हंगामा मच गया है। भारतीय जनता पार्टी उन पर निशाना साध रही है तो सपाई किनारा करते दिख रहे हैं। भाजपा नेता संबित पात्रा ने आजम खान के आर्मी पर दिए बयान को शर्मनाक बताते हुए जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि आजम खान ने भारतीय सेना को कभी अपना नहीं माना। वह बार-बार देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं।

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने भी आजम खान के बयान पर तीखा विरोध जताया है। उन्होंने कहा कि सेना पर ऐसा बयान देश सुनने और सहने को तैयार नहीं है। त्रिपाठी ने कहा कि आजम खान को मानसिक चिकित्सालय में इलाज की सख्त जरूरत है।

सोशल मीडिया पर भी तीखा विरोध
आजम का बयान वायरल होने के बाद आजम का सोशल मीडिया पर भी तीखा विरोध शुरू हो गया है। ट्वीटर और फेसबुक पर यूजर्स ने आजम के बयान की कड़ी निंदा की है। यूजर्स ने आजम पर निशाना साधते हुए उन्हें खूब बुरा-भला कहा। देखते ही देखते ‘आजम खान’ का बयान ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा।

 

Azam Khan controversial statement

Azam Khan controversial statement

 

आजम का विवादित बयान
सपा नेता आजम खान ने कहा कि फौज के साथ जो हो रहा है वो हिंदुस्तान की असल जिंदगी का पर्दा उठाती है। कहीं लोग फौज या बेगुनाहों का सिर उतारते हैं कहीं कोई किसी का हाथ काटकर ले जाता है। लेकिन इस मौके पर दहशतगर्द फौज के प्राइवेट पार्ट्स को काटकर साथ ले गए। उन्हें हाथ से भी शिकायत नहीं थी, पैर से भी नहीं थी, सिर से भी नहीं थी। जिस्म के जिस हिस्से से शिकायत थी उसे काटकर साथ ले गए। उन्होंने आगे कहा कि ये देश के लिए इतना बड़ा संदेश है जिस पर पूरे देश को शर्मिंदा होना चाहिए और सोचना चाहिए कि हम दुनिया को क्या मुंह दिखाएंगे।

भगवा दुपट्टा ओढ़कर आ गई जवानी : आजम
आजम खान ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर तंज करते हुए कहा कि भगवा दुपट्टे ओढ़कर जवानी आ गई है। उन्होंने कहा कि किसी वजीर ने कहा कि यह समाजवादी गुंडे हैं, तो उन्हें पकड़ो। लेकिन वो समाजवादी हों तब न। उनके गलों में तो भगवा दुपट्टे पड़े हैं। अगर उन्हें गिरफ्तार करेंगे तो थाने जला दिए जाएंगे।

Pin It