प्रधानमंत्री ने लालकिले से फहराया तिरंगा, पढ़ें पूरा भाषण

नई दिल्ली. देश आज यानी 15 अगस्त को 71वां स्वाधीनता दिवस मना रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिले की प्राचीर से तिरंगा झंडा फहराया और 55 मिनट तक देश की जनता को संबोधित किया। भाषण के दौरान सबसे पहले गोरखपुर के बीआरडी कॉलेज में हुई बच्चों की मौत पर दुख जताया। इस दौरान उन्होंने आतंकवाद, भ्रष्टाचार, नोटबंदी, जीएसटी और तीन तलाक का जिक्र भी किया। प्रधानमंत्री ने 2022 तक ‘न्यू इंडिया’ बनाने के संकल्प पर जोर दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिले की प्राचीर से अपने भाषण की शुरुआत ‘वंदे मातरम’ से की और ‘भारत माता की जय’ बोलकर भाषण का समापन किया। आइए बिंदुवार जानते हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण की खास बातें-

 

pm modi

 

– प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर सही समय पर कोई कार्य नहीं पूरा गया तो इच्छित परिणाम नहीं मिलता है। सवा सौ करोड़ देशवासियों के लिए हम 2022 तक न्यू इंडिया बनाएंगे। जहां बिजली हो, पानी हो, घर हो। युवाओं और महिलाओं के सपने पूरे होंगे। हमारा न्यू इंडिया आतंकवाद और जातिवाद से मुक्त होगा। 2022 का न्यू इंडिया स्वच्छ होगा, स्वस्थ होगा और स्वराज के सपने को पूरा करेगा।

– पीएम मोदी ने कहा कि देश में अब लूट नहीं चलेगी, सबको जवाब देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से पता चला कि तीन लाख ऐसी कंपनियां हैं जो काला धंधा और हवाला का कारोबार कर रही हैं। सरकार ने पौने दो लाख कंपनियों पर ताले लगा दिए। अब देश लूटने वालों को जवाब देना पड़ेगा। पीएम ने कहा कि इतने कम समय में 800 करोड़ से ज्यादा की बेनामी संपत्ति सरकार ने जब्त कर ली है।

– प्रधानमंत्री ने कहा कि आस्था के नाम पर हिंसा ये देश स्वीकार नहीं कर सकता। देश शांति, एकता और सद्भावना से चलता है। उन्होंने कहा कि तब भारत छोड़ो का नारा था, आज भारत जोड़ो का नारा है।

– तीन तलाक के मुद्दे पर प्रधानमंत्री ने कहा कि पीड़ित महिलाओं ने अपने आंदोलन से देश के बुद्धिजीवी वर्ग को हिला दिया है। इन महिलाओं का हक दिलाने में देश मदद करेगा।

– किसानों को लेकर प्रधानमंत्री ने कहा कि जब तक किसानों को बीज से बाजार तक की सुविधा नहीं दी जाएगी, बदलाव नहीं आएगा। किसान को ताकत मिले तो वो मिट्टी से सोना उगा सकता है। हमने कई योजनाएं शुरू की हैं और कई योजनाओं की शुरुआत करने वाले हैं।

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि न गाली से न गोली से, कश्मीर की समस्या हर कश्मीरी को गले लगाकर सुलझने वाली है। आतंक को लेकर किसी प्रकार की नरमी नहीं बरती जाएगी। जम्मू-कश्मीर के विकास और उनकी उन्नति के लिए हम प्रतिबद्ध हैं।

– प्रधानमंत्री ने कहा कि हम टेक्नोलॉजी के साथ पारदर्शिता लाने की दिशा में काम कर रहे हैं। अब ‘चलता है’ वाला स्वभाव हमें छोड़ना पड़ेगा। ‘बदल सकता है’ के बारे में सोचना पड़ेगा तभी हम देश का विकास कर सकते हैं।

– प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने ‘वन रैंक वन पेंशन’ बढ़ाया जिससे सुरक्षाबलों का हौसला और बढ़ा।

– जीएसटी पर प्रधानमंत्री ने कहा कि इतने कम समय में इतने बड़े देश में जीएसटी लागू होना गर्व की बात है। गरीबों को लूटकर तिजोरी भरने वाले लोग आज भी चैन की नींद नहीं सो रहे हैं इससे ईमानदार लोगों का भरोसा बढ़ा है। आज ईमानदारी का उत्सव मनाया जा रहा है और बेईमानों के लिए सिर छुपाने की जगह नहीं है।

Pin It