यहां बेटियां बाप संग ब्याह का देखती हैं सपना

लखनऊ. आपने कई परंपराओं के बारे में सुना होगा लेकिन आज हम आपको एक ऐसी परंपरा के बारे में बता रहे हैं जिसको सुनकर आप चौंक जाएंगे। हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां लड़कियों को अपने ही पिता से शादी करनी पड़ती है।

ऐसा होता है मंडी जनजाति में, जो बांग्लादेश में निवास करती है। यहां शादी से जुड़ी कई परंपराएं देखने को मिलती हैं। इस जनजाति में शादी के बाद दुल्हन की विदाई नहीं होती, क्योंकि यहां बेटियों को अपने पिता से ही शादी करनी पड़ती है।

मंडी जनजाति की लड़कियां बचपन से ही अपने पिता संग ब्याह रचाने का सपना देखती हैं। इस जनजाति में यह परंपरा सालों से चली आ रही है।

 

ladkiyan karti hai baap se shadi

यहां की यह परंपरा है कि अगर किसी महिला के पति की कम उम्र में मृत्यु हो जाती है तो उस महिला को उसके पति के परिवार के आदमी से शादी करनी होती है और उस महिला की अगर कोई बेटी है तो उसको भी अपने दूसरे पिता से शादी करनी पड़ती है।

इस जनजाति की लड़की ओडोला का कहना है कि बचपन में ही उसके पिता की मृत्यु हो गई थी, तो उसकी मां ने दूसरी शादी की, तभी से वह अपने दूसरे पिता को पति के रूप में देखती थी। इस समय ओडोला को अपने पिता से 3 बच्चें हैं और उसकी मां को

Pin It