योगी बोले- लोग साधुओं को भीख तक नहीं देते, मोदी ने तो मुझे सत्ता दे दी

cm yogi

लखनऊ. योग महोत्सव में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहली बार खुलकर अपने भाव रखे। उन्होंने खुद की सीएम के तौर पर ताजपोशी के लिए तारीफ में कसीदे पढ़े, वहीं मुसलमानों को भी आश्वस्त किया कि अब वह बदल गए हैं। उनके नेतृत्व में यूपी सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास’ के ढर्रे पर ही चलेगी।

योग महोत्वसव में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजकल लोग साधु-संतों को भीख भीख तक नहीं देते, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तो मुझे देश के सबसे बड़े प्रदेश का मुख्यमंत्री बना दिया।

यूपी की हर बीमारी का इलाज मेरे पास है
मुख्यमंत्री ने कहा, अभी मेरे सामने बहुत सी चुनौतियां आने वाली हैं। लेकिन मैं यूपी की हर गली से वाकिफ हूं। सूबे की हर बीमारी का इलाज मेरे पास है। मुझे जनता और पार्टी के विधायकों ने चुना है। खुद को मुख्यमंत्री बनाए जाने पर योगी ने कहा कि अगर इस पद को मैं स्वीकार नहीं करता तो लोग कहते कि मैं जिम्मेदारी से भाग रहा हूं। सीएम पद लेने से मैं भागा नहीं। उन्होंने कहा- मुझे एक दिन पहले ही पता चला कि मुझे सीएम बनाया जा रहा है

सूर्य नमस्कार और नमाज एक जैसे : योगी आदित्यनाथ
योग महोत्सव में संबोधित करते मुख्यमंत्री योगी ने कहा, योग किसी जाति, धर्म, उम्र और लिंग का मोहताज नहीं हैष असल में सूर्य नमस्कार में प्राणायाम की क्रियाएं और नमाज की मुद्राएं एक जैसी हैं। अगर आप सूर्य नमस्कार करते हुए देखेंगे तो आपको यह वैसे ही लगेगा, जैसे मुस्लिम नमाज पढ़ते हैं। सूर्य नमस्कार में जितने आसन आते हैं, उसमें जो प्राणायाम की क्रियाएं हैं, वो मुस्लिम भाई जो नमाज पढ़ते हैं, उससे मिलती-जुलती हैं।

यूपी में पहली बार योग महोत्सव
योगगुरू बाबा रामदेव ने गोमती नगर स्थित इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में तीन दिवसीय योग महोत्सव आयोजित किया है। उत्तर प्रदेश में पहली बार योग महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन हुआ है, जिसकी थीम ‘योग इज मेडिसिन’ रखी गई।

Pin It