CM योगी ने भगवान राम की मूर्ति स्थापित करने के लिए देखी जगह

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अयोध्या में भगवान श्री राम की एक दर्शनीय मूर्ति स्थापित हो, इसके लिए चर्चा की है. सीएम ने यह भी कहा कि उन्होंने मूर्ति के स्थापित करने के लिए एक- दो जगह भी देखी है. पूजनीय मूर्ति मंदिर में होगी और दर्शनीय मूर्ति अलग होगी.यूपी के सीएम ने यह बात अपने अयोध्या दौरे के दूसरे दिन मीडिया से बात करते हुए कही. इससे पहले अपने दौरे के दूसरे दिन योगी आदित्यनाथ ने रामजन्म भूमि जाकर रामलला के दर्शन किए. वे हनुमान गढ़ी, दिगंबर अखाड़ा और सरयू घाट भी गए.
अयोध्या की अच्छी तस्वीर सामने रखी
मीडिया से मुखातिब हुए सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या के बारे में सकारात्मक सोच के साथ यहां की आध्यात्मिक गतिविधियों को सामने रख सकें, यही मंशा है. अयोध्या के लिए सरकार ने बहुत सारी योजनाएं बनाई हैं. उन्होंने कहा कि यहां बिना ढके तार हटाकर उन्हें अंडरग्राउंड किया जा रहा है. स्वच्छता के लिए विशेष अाग्रह किया गया है. विकास के सर्वे का काम अंतिम चरण में चल रहा है.
माता कौशल्या के नाम पर आश्रम
योगी ने कहा कि यहां विधवा और अनाथ बच्चों को लिए एक आश्रम बनाने की योजना है. ये आश्रम माता कौशल्या के नाम पर होगा.सीएम योगी ने कहा अयोध्या हमारी सात धार्मिक पवित्र नगरियों में से एक है. ये श्रद्धा का एक प्रमुख केंद्र है. यहां की धार्मिक, सामाजिक और सांस्कृतिक विरासत को हमने दुनिया के सामने रखा है. इससे बहुत अच्छा संदेश पूरी दुनिया में गया है. उन्होंने कहा कि इस वर्ष हमने दक्षिण कोरिया को निमंत्रण दिया था. कोरिया की प्रथम महिला का अयोध्या आना हमारे लिए गौरव की बात है.
अयोध्या दुनिया के बेहतरीन शहरों में एक होगा
योगी ने कहा कि अयोध्या में विकास के लिए हम हरसंभव कोशिश में लगे हैं. इन योजनाओं को व्यवाहरिक धरातल पर उतारने के लिए हमने स्वयं निरीक्षण किया है. हमारा विश्वास है कि आने वाले कुछ सालों में अयोध्या दुनिया की बेहतरीन नगरी के रूप में स्थापित होगी. इसके जरिए आसपास के इलाकों में विकास होगा. सरयू नदी के पवित्र जल को अविरल बनाने के दिशा में कदम उठा रहे हैं.
हनुमान गढ़ी में योगी ने मत्था टेका
सीएम योगी हनुमानगढ़ी में भी मत्था टेकने के बाद कनक भवन, सुग्रीव किला और अयोध्या में लगने वाली राम प्रतिमा स्थल का भी निरीक्षण किया. इसके बाद दिवाली मनाने के लिए गोरखपुर के लिए रवाना हो गए.
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को फैजाबाद का नाम अयोध्या करने की घोषणा की. ये ऐलान करते हुए सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या हमारी ‘आन, बान और शान’ का प्रतीक है. इसके साथ ही राम मंदिर निर्माण की चर्चाओं के बीच उन्होंने कहा कि कोई अयोध्या के साथ अन्याय नहीं कर सकता है.
सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या की पहचान भगवान राम से है. उन्होंने दिवाली के अवसर पर आयोजित ‘दीपोत्सव’ में ये बातें कहीं. उन्होंने अयोध्या में भगवान राम के नाम पर एक नया हवाई अड्डा और भगवान राम के पिता राजा दशरथ के नाम पर जिले में एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की भी घोषणा की. इस अवसर पर भीड़ में शामिल कुछ लोगों को ‘मंदिर का निर्माण कराओ’ के नारे लगाते सुना गया.
कथा पार्क में आयोजित कार्यक्रम में दक्षिण कोरिया कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग-सुक भी शामिल हुईं. इस अवसर पर ‘राम की पैड़ी’ के पुन: विकास और सौंदर्यकरण और सरयु नदी में मलजल प्रवाहित करने पर रोक लगाने समेत कई परियोजनाओं का शुभारंभ किया गया.

Pin It