बॉलीवुड को कई दमदार ​फिल्म देने वाले संजीव कुमार को ताउम्र सताता रहा इस बात का डर…

संजीव कुमार एक ऐसा नाम, जिसने बॉलीवुड में कई दमदार फिल्में दी। उनके निभाए किरदार आज भी लोगों के जेहन में ताजा हैं। संजीव कुमार का जन्म 9 जुलाई 1938 को एक गुजराती परिवार में हुआ था। उनका असली नाम हरिहर जेठालाल जरीवाला था, लेकिन जब वह फिल्मी दुनिया में आए, तो वे संजीव कुमार के नाम से  जाने गए। संजीव कुमार ने अपने कॅरियर की शुरुआत  बॉलीवुड फिल्म निशान से की थी। बॉलीवुड को कई दमदार ​फिल्म देने वाले संजीव कुमार का मात्र 47 साल की उम्र में 6 नवबंर 1985 को हार्ट अटैक ​से ​देहांत हो गया। आज उनकी 33वीं पुण्यतिथि है। 
संजीव कुमार अपने फिल्मी कॅरियर में जितने दमदार नेता था, अपनी निजी जिंदगी में वह उतना ही एक बात से डरते थे।  संजीव को हमेशा यह डर रहता था कि वह जल्द ही इस दुनिया से चले जाएंगे और हुआ भी वही। दरअसल,  संजीव कुमार के घर में सभी पुरुषों की मृत्यु 50 साल से कम उम्र में हो गई थी। उनके मन में यही बात बैठ गई थी कि उनकी मौत भी जल्दी ही हो जाएगी। संजीव कुमार को 2 बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था। संजीव कुमार की जिंदगी के कई किस्से हैं, जो बॉलीवुड के गलियारों में चर्चा का विषय रहे। 
इस  एक्ट्रेस के  संग निभाए कई  रोल 
संजीव कुमार ने अपने कॅरियर में कई तरह के रोल निभाए, लेकिन एक एक्ट्रेस है, जिसके साथ संजीव ने पति, भाई, ससुर तक के किरदार अदा किए। यह एक्ट्रेस हैं जया बच्च। उन्होंने फिल्म कोशिश में जया के पति का किरदार निभाया, तो अनामिका में प्रेमी का,  सिलसिला फिल्म में संजीव कुमार जया बच्चन के भाई बने थे, वहीं फिल्म शोले में उन्होंने उनके ससुर का किरदार निभाया था। 
इस एक्ट्रेस के कारण नहीं की जिंदगी भी शादी
संजीव कुमार आजीवन कुंवारे रहे। दरअसल, वह बॉलीवुड अभिनेतत्री हेमा मालिनी को बेइंतहा मोहब्बत करते थे। हालांकि उनका नाम कई एक्ट्रेस के साथ जुड़ा, लेकिन अगर किसी एक्ट्रेस को वह पूरी शिद्दत से चाहते थे, तो वह हेमा मालिनी थीं। संजीव कुमार ने हेमा मालिनी को प्रपोज किया, लेकिन उन्होंने उनके प्यार को ठुकरा दिया और धर्मेंद्र से शादी कर ली। अपना प्यार ठुकराए जाने के बाद संजीव कुमार ने फिर कभी शादी नहीं की और जिंदगी भर अकेले ही रहे। 
The post बॉलीवुड को कई दमदार ​फिल्म देने वाले संजीव कुमार को ताउम्र सताता रहा इस बात का डर… appeared first on इंडियन लेटर.

Pin It