जवानों के साथ दिवाली मनाने और केदारनाथ की परिक्रमा के बाद दिल्ली लौटे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड के हर्षिल में जवानों के साथ दिवाली मनाने के बाद केदारनाथ पहुंचे. यहां हेलीपैड से उतरने के बाद करीब आधे किलोमीटर का रास्ता उन्होंने पैदल तय किया और बाबा केदारनाथ के मंदिर पहुंचे और पूजा-अर्चना की. इस बार उन्होंने जलाभिषेक किया. पिछले दो बार से वे रुद्राभिषेक कर रहे थे. मंदिर से बाहर आकर उन्होंने नंदी को प्रणाम किया और मंदिर की परिक्रमा भी की. इसके बाद उन्होंने निर्माण कार्यों का जायजा लिया. प्रधानमंत्री बनने के बाद वे तीसरी बार केदारघाटी पहुंचे. यहां पूजा-अर्चना और निर्माण कार्यों का जायजा लेने के बाद प्रधानमंत्री मोदी दिल्ली के लिए रवाना हो गए.
इससे पहले प्रधानमंत्री ने उत्तराखंड आपदा की एक फोटो प्रदर्शनी भी देखी. प्रधानमंत्री ने इसका जायजा लिया. जून 2013 में उत्तराखंड में जो प्रलय आई थी, पूरी केदार घाटी तबाह हो गई थी. प्रदर्शनी में उसकी तस्वीरें दिखाई गईं. तबाही के बाद जो निर्माण कार्य कराया गया, खुद प्रधानमंत्री ने उसका जायजा लिया. बुधवार को केदारनाथ धाम में प्रधानमंत्री के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद रहे.

Uttarakhand: Prime Minister Narendra Modi offers prayers at Kedarnath Temple in Kedarnath. pic.twitter.com/Mdi9fRRWwX
— ANI (@ANI) November 7, 2018

 

केदारनाथ मंदिर विशेष पत्थरों को जोड़कर बनाया गया है. यह मंदिर 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है. पीएम मोदी साल 2017 में दो बार केदारनाथ गए थे. बुधवार को उन्होंने बाबा केदार के दर्शन करने के बाद निर्माण कार्यों का जायजा लिया.  बुधवार को केदार घाटी में मौसम साफ रहा.

Uttarakhand: Prime Minister Narendra Modi with Jawans of the Indian Armed Forces at Harsil, earlier today. pic.twitter.com/YW0m6YAbTb
— ANI (@ANI) November 7, 2018

प्रधानमंत्री ने आम लोगों से भी मुलाकात की. कई लोगों को सेल्फी लेते देखा गया. केदारनाथ के मुख्य द्वार पर फूलों और रंगों की रंगोली बनाई गई है. मंदाकिनी नदी से सीधे एक नया रास्ता केदारनाथ मंदिर तक बनाया गया है. प्रधानमंत्री ने इसका जायजा लिया. इस रास्ते से श्रद्धालु सीधा मंदिर तक आ सकते हैं. मंदिर की सजावट में 3 टन फूल लगाए गए हैं.

कैबिनेट मंत्री प्रकाश पंत, धन सिंह रावत, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट और आचार्य बालकिशन ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया. 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी का यह तीसरा केदारनाथ दौरा रहा. इससे पहले प्रधानमंत्री भारत-चीन सीमा पर उत्तराखंड के हर्षिल पहुंचे और जवानों संग दिवाली मनाई. सेना के नेलॉग पोस्ट पर जवानों संग पीएम ने दिवाली मनाई. 2 महार रेजिमेंट के जवानों से मुलाकात की.

Pin It